बसंती बयार

बसंती बयार

चमकता माशूक सूरज के जैसे ;
प्यार चक्कर लगाता ग्रहों जैसे
जब बहे बयार प्यार की बसंती
हर गीली शाख लगती थिरकने

The beloved shines like the sun;
the lover whirls like the planets.
When love’s spring breeze blows,
every moist branch starts dancing

shares