दुश्वार

दुश्वार

हज़रते ईसा से पूछा किसी ने जो था हुशियार
इस हस्ती में चीज़ कया है सबसे ज़्यादा दुश्वार

बोले ईसा सबसे दुश्वार ग़ुस्सा ख़ुदा का है प्यारे
कि जहन्नुम भी लरज़ता है उनके डर के मारे

पूछा कि खुदा के इस क़हर से जां कैसे बचायें ?
वो बोले अपने ग़ुस्से से इसी दम नजात पायें
(दुश्वार=मुश्किल, जहन्नुम=नर्क,दोज़ख़, नजात=
छुटकारा)

Hits: 11

:: ADVERTISEMENTS ::
shares